अशोका ट्रेवल्स की एसी बस में दम घुटने से मां बेटे की संदिग्ध मौत पुलिस जांच में जुटी।

उज्जैन। पुणे से उज्जैन के लिए निजी बस में सवार होकर अपने घर आ रहे माँ – बेटे की संदिग्ध मौत हो गई। दोनों के शव को शवपरिक्षषण   के बाद परिजनों को सौंप दिया है। पूरे मामले में बस कंडेक्टर और ड्रायवर पर लापरवाही के आरोप लगे है। हालांकि पुलिस ने कहा है की पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे है। उसके बाद कार्रवाई होगी। उज्जैन के वेद नगर की रहने वाली शिक्षिका दीपिका पति संदीप पटेल उम्र 38 वर्ष और उनके इकलौते बेेटे आदित्य राज उम्र 11 वर्ष और मां पुष्पा उम्र 56 वर्ष रविवार रात को पुणे से अशोक ट्रेवल्स कंपनी की एसी स्लीपर बस से सवार होकर उज्जैन आने के लिए निकले थे। सफर के दौरान दीपिका ने दम घुटने की शिकायत कंडेक्टर से की जिस पर कंडेक्टर ने दीपिका को एसी से गैस की बदबू आने का कहकर ध्यान नहीं दिया। इंदौर पहुंचते ही माँ-बेटे के तबियत बिगड़ने लगी। बताया गया कि बस में ऑक्सीजन लेवल कम होने और सीट के पास लगे अग्रिशमन यंत्र से गैस रिसाव के कारण दोनों की तबीयत बिगडी है और सुबह दोनों की उपचार के दौरान संदिग्ध अवस्था में इंदौर में मौत हो गई। पोस्टमार्टम के बाद होगा खुलासा रविवार को चली बस सोमवार को सुबह इंदौर पहुंची। इसके बाद हालत बिगडने पर दोनों को इंदौर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। सुबह 10 बजे अस्पताल के डॉक्टरों ने आदित्य राज को मृत घोषित कर दिया। वहीं दोपहर में उपचार के दौरान ही दीपिका की मौत हो गई। सूचना के बाद पुलिस ने एम वाय अस्पताल में पीएम करवाया। पुलिस अब मामले में बस के ड्रायवर और कंडेक्टर से भी बयान लेगी। वहीं मां-बेटे की मौत किन कारणों से हुई। इसका खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद होने की संभावना है।