ग्राम फुसरिया मैं गिट्टी क्रेशरो से उड़ने वाली धूल से परेशान ग्रामीणों और महिलाओं ने किया चक्काजाम प्रशासनिक अमला और क्रेशर मालिक पहुंचे मौके पर लोगों को समझाने का किया प्रयास

*ग्राम फुसरियां मे गिट्टी क्रेशरो से उड़ने वाली धुल से परेशान ग्रामीणों और महिलाओं ने किया चक्काजाम*

*प्रशासनिक अमला और क्रेशर मालिक पहुंचे मौके पर लोगो को समझाने का किया प्रयास*

*सिंगोली-* समीपस्थ ग्राम फुसरियां मैं लगे गिट्टी क्रेशरो से उड़ने वाली धूल से परेशान ग्रामीणों और महिलाओं के सब्र का बांध उस समय टूट गया जब उन्होंने क्षेत्र में लगे गिट्टी क्रेशरो से उड़ने वाली धूल को लेकर कई बार प्रशासनिक अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों को अवगत कराया लेकिन उनकी समस्या का समाधान आज तक नहीं हुआ इसी बात से नाराज ग्रामीणों ने आज सिंगोली तिलस्वा मार्ग पर स्थित ग्राम फुसरिया सड़क मार्ग पर एकत्रित होकर चक्का जाम लगा दिया ग्रामीणों ने बताया कि फुसरिया ग्राम के आसपास स्थित क्रेशरो के संचालन से रात दिन बारीक मिट्टी उड़ती है जिसकी वजह से फुसरिया सहित आसपास के ग्रामीणों और उक्त मार्ग पर सफर करने वाले लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है क्रेशरो से उड़ रही धूल के कारण लोग जानलेवा बीमारियों से ग्रसित हो रहे हैं कई बार प्रशासनिक अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों को उक्त समस्या से अवगत कराया लेकिन आज तक किसी ने भी गंभीरता से उत्पन्न समस्या की ओर ध्यान नहीं दिया जिससे आए दिन ग्रामीण दमा श्वास की बीमारी से ग्रसित हो रहे हैं जिसकी वजह से उन्हें आर्थिक परेशानियों से भी जूझना पड़ रहा है और असमय ही मौत के ग्रास में समा रहे हैं ग्रामीणों ने यह भी कहा कि क्रेशर संचालकों द्वारा रात को क्रेशरो में उपयोग का पत्थर निकालने के लिए ब्लास्टिंग का सहारा भी लिया जाता है जिसकी वजह से भी लोगों के घरों में दरारें आ चुकी है जिससे कभी भी कोई गंभीर घटना क्षेत्र में गठित हो सकती हैं बार-बार प्रशासन और जनप्रतिनिधियों को अवगत कराने के बावजूद आज तक किसी ने भी इस दिशा में कोई ठोस पहल नहीं की और ना ही उक्त समस्या का समाधान आज तक किया गया है अगर हमारी समस्या का निराकरण समय रहते हो जाता तो हमें आज यह कदम नहीं उठाना पड़ता फुसरिया में ग्रामीणों द्वारा चक्का जाम करने की सूचना मिलते ही स्थानीय प्रशासनिक अमला भी मौके पर पहुंचा जहां अमले के अधिकारियों ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया तथा उक्त समस्या का पांच दिन मैं त्वरित निराकरण करने का आश्वासन देकर चक्का जाम को समाप्त करवाया इस दौरान प्रशासनिक अधिकारियों ने क्रेशर मालिकों को भी मौके पर बुलाया जहां मालिकों द्वारा प्रतिदिन पानी का छिड़काव करने की बात कही गई क्रेशर मालिकों ने कहा कि वैसे तो हमारे द्वारा प्रतिदिन रास्तों पर पानी का छिड़काव किया जाता है ताकि धूल मिट्टी ना उड़े फिर भी पानी के छिड़काव को और बढ़ा दिया जाएगा ताकि ग्रामीणों को किसी प्रकार की परेशानी ना हो लेकिन ग्रामीणों की मांग है कि पांच दिवस में समस्या का स्थाई निराकरण नहीं किया गया तो मजबूरन क्षेत्रवासियों को फिर आंदोलन की राह पर चलना पड़ेगा