नाम निर्देशन पत्र दाखिल करने के साथ ही शुरू हुआ निकाय चुनाव घमासान नगर के दो तीन पांच सात आठ नौ वार्ड में श्री शंभूलाल सुथार सोनिया नायक सुरेशचंद जैन भाया (बगड़ा) श्रीमती सुनीता मेहता जमील मोहम्मद मेंव राजेश भंडारी के नाम प्रमुख दावेदारों में उभर कर आए सामने

*नाम निर्देशन पत्र दाखिल करने के साथ ही शुरू हुआ निकाय चुनाव घमासान*

*नगर के दो, तीन, पांच, सात, आठ, नो वार्ड में श्री शंभूलाल सुथार, सोनिया नायक, सुरेशचंद जैन भाया (बगड़ा) श्रीमती सुनीता मेहता, जमील मोहम्मद मेंव, राजेश भंडारी के नाम प्रमुख दावेदारों में उभरकर आए सामने*

सिंगोली:- नगरीय निकाय चुनाव की घोषणा होने के बाद नगर में चुनावी माहौल गरमाने लगा है इसी के साथ आज 11 जून शनिवार से नाम निर्देशन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया शुरू हुई जो अठारह जून तक निरंतर जारी रहेगी जिसमें नगर निकाय चुनाव में उम्मीदवारी की ताल ठोक रहे उम्मीदवारों द्वारा नाम निर्देशन पत्र रिटर्निंग अधिकारी को प्रस्तुत किए जाएंगे इस बार निकाय अध्यक्ष पद का चुनाव निर्वाचित पार्षदों द्वारा किया जाएगा इस कारण विकास और जन सुविधा की बजाए जीत के लिए पार्टी और मतदाताओं में उम्मीदवार की साख भी अहम होगी तथा अध्यक्ष पद के दावेदार भी पूरी जोड़-तोड़ लगाएंगे हर बार निकाय चुनाव में शहर विकास के मुद्दे चर्चा का विषय बनते हैं और अध्यक्ष पद के उम्मीदवार की छवि व प्रदेश सरकार में उसके प्रभाव का आकलन कर जनता मतदान करती थी ताकि नगर में विकास के अधिकाधिक कार्य संपन्न हो सके तब विकास के मुद्दों पर अधिक फोकस रहता था लेकिन इस बार निकाय चुनाव जिस दिशा में जा रहे हैं उससे साफ जाहिर है कि चुनाव में विकास जन सुविधाओं के साथ व्यवस्थाओं के मुद्दों की भूमिका नगण्य रहेगी जो हालात बन रहे हैं उनसे स्पष्ट है कि अध्यक्ष पद के दावेदार भी केवल अपनी जीत के लिए ही जोड़-तोड़ और ताकत लगाएंगे इसी के साथ वर्तमान में दोनों ही राजनीतिक दलों के सामने अध्यक्ष पद के काबिल व्यक्ति को सुरक्षित वार्ड से टिकट देकर उसे जिताने की चुनौती भी है जिससे दोनों ही दलों की साख भी दांव पर होगी जनता अपनी समस्याओं को हल कराने के लिए किस पार्टी पर भरोसा करेगी यह समझना अभी मुश्किल होगा नगर निकाय चुनाव में दोनों ही दल अपने उम्मीदवारों का सर्वे कराकर पार्षद पद के उम्मीदवारों को टिकट देने की बात कह रहे हैं और दोनों ही दलों के पास इच्छुक उम्मीदवारों के बायोडाटा सहित फार्म भी पहुंच रहे हैं नामांकन प्रक्रिया के अंतिम चरण तक दोनों ही दल अपने प्रत्याशी तय करना चाहेंगे लेकिन कुछ वार्डों में घमासान की स्थिति भी निर्मित होती दिखाई दे रही है वर्तमान निकाय चुनाव में दोनों ही दलों से नगर के कुछ वार्ड से जो नाम प्रमुख दावेदारों में उभर कर सामने आए हैं उनमें वार्ड क्रमांक दो से भाजपा के शंभूलाल सुथार जोकि पूर्व में नगर परिषद सिंगोली में पार्षद प्रतिनिधि भी रहे हैं वे पिछले चुनाव में बतौर निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़े थे जिसमें उन्हें जीत हासिल हुई थी श्री सुतार ने अपने कार्यकाल के दौरान वार्ड में कई विकास कार्य करवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई आज इनके वार्ड की हर गली में सीसी सड़क निर्माण वार्ड वासियों की वर्षों पुरानी ज्वलंत पानी की समस्या का समाधान भी इनके कार्यकाल के दौरान हुआ है वही वार्ड वासियों की मांग पर इन्होंने नवीन श्मशान घाट का निर्माण भी करवाया तथा बीजासन माता मंदिर प्रांगण का जीर्णोद्धार करवाने मैं भी इनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है इसी के साथ नगर के चर्चित वार्ड क्रमांक तीन से भी कांग्रेस के जमीनी कार्यकर्ता हंसमुख मिलनसार श्रीमती सोनिया कमल किशोर नायक का उभर कर आया है जिनके पति स्थानीय सब्जी कारोबारी भी है जनता से सीधे जुड़ा और जमीनी पकड़ के कारण प्रमुख दावेदारों में शुमार हैं वहीं वार्ड क्रमांक पांच से भाजपा के पूर्व पार्षद और नगर अध्यक्ष सुरेश चंद जैन भाया बगड़ा ने भी पार्षद के लिए चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर की है संगठन में मजबूत पकड़ व चुनावी मैनेजमेंट में माहिर नगर निकाय में दो बार पार्षद रह चुके श्री बगड़ा को अगर भाजपा वार्ड क्रमांक पांच से टिकट देती है तो जीत की प्रबल संभावना बन सकती हैं वही वार्ड क्रमांक आठ से कांग्रेस के दिग्गज और नगर कांग्रेस के नगर अध्यक्ष जमील मोहम्मद मेव ने भी चुनावी मैदान में आने का पूरा मन बना लिया है अगर इन्हें पार्टी टिकट देती है तो इनकी भी जीत की पूरी पूरी संभावना प्रबल होती दिखाई दे रही है इन्हें भी राजनीति का लंबा अनुभव है पूर्व में पार्षद रह चुके हैं और इनके पिता स्वर्गीय रज्जाक भाई मेव नगर परिषद अध्यक्ष रह चुके हैं जिन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान नगर में कई विकास कार्य करवाए जिनका फायदा इन्हें मिल सकता है इसी तरह नगर का सबसे चर्चित वार्ड क्रमांक नो जहां पर दोनों ही दलों में उम्मीदवारी की घमासान मची है वहां से स्वर्गीय पारसमल भंडारी के सुपुत्र हंसमुख मिलनसार और वार्ड में अपनी मजबूत पकड़ रखने वाले राजेश भंडारी ने मजबूत दावेदारी पेश की है ज्ञात रहे श्री भंडारी निकाय अध्यक्ष पद के भी कांग्रेस की ओर से प्रमुख दावेदारों में शुमार हैं और इनके पिता स्वर्गीय पारसमल भंडारी पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वर्गीय घनश्याम पाटीदार के खासम खास लोगों में शुमार थे जिनको राजनीतिक अनुभव का लाभ भी मिलेगा इनके साथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं की एक मजबूत टीम भी हैं अगर इस वार्ड से पार्टी इन्हें टिकट देती है तो एक मजबूत प्रत्याशी कांग्रेस के पास होगा और वार्ड क्रमांक नो में रोचक मुकाबला भी देखने को मिलेगा इसी तरह वार्ड क्रमांक सात से पूर्व नगर परिषद अध्यक्ष श्रीमती सुनीता मेहता ने भी एक बार फिर से चुनावी रण में उतरने का मन बना लिया है अगर श्रीमती मेहता चुनावी मैदान में आती है तो इनकी भी जीत की प्रबल संभावना बन रही है क्योंकि अध्यक्ष कार्यकाल में इनके द्वारा नगर में काफी विकास कार्य कराए गए और नगर की महत्वपूर्ण और चर्चित देव तलाई उत्थान का कार्य भी इनके कार्यकाल में संपन्न हुआ है बतौर अध्यक्ष पद पर रहते हुए इन्होंने शासन की महत्वपूर्ण प्रधानमंत्री आवास योजना से बिना भेदभाव के गरीब लोगों को लाभान्वित किया है