राजस्थान के निंबाहेड़ा में पकड़े गए आतंकियों का MP कनेक्शन: जांच करने रतलाम पहुंची 20 सदस्यीय NIA की टीम

 

 

रतलाम

मध्यप्रदेश के रतलाम में नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) की टीम पहुंची है, जोकि अधिकारियों के साथ 20 सदस्यों की टीम मामले की गहनता से जांच करेगी. राजस्थान के निंबाहेड़ा में विस्फोटक के साथ पकड़े गए आतंकियों के रतलाम कनेक्शन को देखते हुए मामले में जांच के लिए एनआईए की टीम रतलाम आई है एनआईए की टीम पूरे आतंकी नेटवर्क की पड़ताल के साथ ही अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां भी जुटा रही है.

 

सीरियल ब्लास्ट की प्लानिंग कर रहे थे आतंकी: राजस्थान की निंबाहेड़ा पुलिस ने कार चैकिंग के दौरान रतलाम निवासी जुबेर, अल्तमस और सैफुल्ला को विस्फोटक और बम बनाने की सामग्री के साथ पकड़ा था. पूछताछ में खुलासा हुआ कि आतंकी जयपुर में सीरियल ब्लास्ट की प्लानिंग कर रहे थे. पकड़े गए सभी आतंकियों के रतलाम निवासी होने की जानकारी मिलने पर तत्काल कार्रवाई करते हुए राजस्थान एटीएस, एमपी एटीएस और रतलाम पुलिस ने मास्टर माइंड सरगना इमरान सहित 4 लोगों को गिरफ्तार किया था. वहीं एटीएस की टीम ने इमरान के घर और फार्म हाउस से संदेहास्पद सामग्री भी बरामद की थी, अब इसी मामले में जांच के लिए एनआईए की टीम रतलाम पहुंची है.       विस्फोटक और अन्य सामान हुआ बरामद: पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आतंकी संगठन से जुड़े हुए सदस्यों से मध्य प्रदेश के नंबर की एक बोलेरो कार बरामद की गई है. इसके साथ ही दो पारदर्शी थैलियों में सिल्वर रंग के 6 किलो विस्फोटक पदार्थ और दो पारदर्शी थैलियों में सलेटी दानेदार 6 किलो विस्फोटक पदार्थ बरामद किया गया है. आरोपियों से कुल 12 किलो विस्फोटक पदार्थ बरामद किया गया है. इसके साथ ही 3 आरपेट घड़ी और 3 ड्यूरसेल बैटरी बरामद की गई है. इसके अतिरिक्त 3 कनेक्टर वायर, एक प्लास्टिक की शीशी में 6 छोटे बल्ब बरामद किए गए हैं. इन तमाम वस्तुओं का प्रयोग घातक विस्फोटक बनाने में किया जाता है.मामले में अब तक राजस्थान और रतलाम से आधा दर्जन से अधिक गिरफ्तारियां हो चुकी हैं, जबकि तीन आरोपी फरार हैं. रतलाम जिला प्रशासन ने आतंकी साजिश में शामिल अपराधियों के घरों पर बुलडोजर चलाने की कार्रवाई की थी. संभावना है कि एनआईए की टीम की जांच में और भी खुलासे हो सकते हैं।