राजस्थान में 3 मई को आंधी-बारिश की संभावना राजस्थान में तेज गर्मी और बिजली कटौती से लोग परेशान

जयपुर

राजस्थान में तेज गर्मी और बिजली कटौती से लोग परेशान हो गए हैं। गुरुवार को राज्य के 11 शहरों में दिन का अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से ऊपर रिकॉर्ड हुआ। ख्वाजा नगरी अजमेर में बीते 63 साल में अप्रैल का सबसे गर्म दिन रहा। जहां अधिकतम तापमान 43.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। राजधानी जयपुर में बीती रात न्यूनतम तापमान 31 डिग्री सेल्सियस से भी ऊपर रिकॉर्ड हुआ। जो इस गर्मी के सीजन की सबसे गर्म रात रही। मौसम केन्द्र जयपुर के डायरेक्टर राधेश्याम शर्मा की माने तो हीट वेव की स्थिति अगले 3 दिन बने रहने की संभावना है। आखातीज से प्रदेश के मौसम में बदलाव होगा। तापमान में 4 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट हो सकती है।

  • जयपुर मौसम केंद्र से जारी रिपोर्ट को देखें तो अजमेर में साल 1958 में अधिकतम तापमान 44.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था, जो अप्रैल महीने का सबसे गर्म दिन था। इसके बाद कल अजमेर में तापमान 43.3 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज हुआ, जो इसके बाद सबसे ज्यादा तापमान है। उदयपुर को छोड़कर प्रदेश के सभी जिलों में कल दिन का अधिकतम तापमान 43 डिग्री सेल्सियस या उससे ऊपर रहा।
    अलवर, बीकानेर, चूरू, गंगानगर, धौलपुर, बारां, डूंगरपुर, हनुमानगढ़, सवाई माधोपुर, बांसवाड़ा और करौली में कल दिन का अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से ऊपर रहा। धौलपुर कल सबसे गर्म रहा, जहां का अधिकतम तापमान 46.6 डिग्री सेल्सियस रहा। जबकि सबसे गर्म रात जयपुर में रही, जहां न्यूनतम तापमान 31.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ।

2 मई तक तापमान में हो सकती है और बढ़ोतरी

जयपुर मौसम केन्द्र से जारी फोरकास्ट के मुताबिक आज बीकानेर, जोधपुर और अजमेर संभाग के कई जिलों में सरफेस पर हीटवेव चलेगी। गंगानगर, बीकानेर, बाड़मेर, चूरू, जोधपुर, श्रीगंगानगर, जालोर, पाली, नागौर जिलों के लिए मौसम विभाग ने ओरेंज अलर्ट जारी किया है। 30 अप्रैल को अजमेर, बीकानेर, बाड़मेर, नागौर, जोधपुर और पाली जिलों में 50 किलोमीटर की स्पीड से धूलभरी आंधी चलने की संभावना है। मौसम विभाग ने 2 मई तक राज्य के कुछ शहरों में दिन के तापमान में एक से दो डिग्री सेल्सियस तक तापमान में बढ़ोतरी की संभावना जताई है।

3 मई से एक्टिव होगा वेर्स्टन डिर्स्टबेंस
3 मई से एक स्ट्रांग वेस्टर्न डिर्स्टबेंस राजस्थान के नॉर्दन और वेस्ट-नॉर्दन एरिया में सक्रिय होगा। इस वेर्स्टन डिर्स्टबेंस से 3 व 4 मई को बीकानेर, जोधपुर और कहीं-कहीं जयपुर संभाग के कुछ हिस्सों में धूलभरी आंधी के साथ बूंदाबांदी या हल्की बारिश हो सकती है, जिससे तापमान में 4 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट हो सकती है। इस दौरान गंगानगर, बीकानेर, चूरू, नागौर, जोधपुर, झुंझुनूं, हनुमानगढ़ जिलों में बारिश भी हाे सकती है। इससे गर्मी से लोगों को काफी राहत मिलेगी और हीटवेव भी अगले कुछ दिनों के लिए रूक जाएगी।
बिजयनगर की 2 कॉटन फैक्ट्रियों में भीषण आग:हवा के साथ फैली लपटें, करोड़ों का माल जलने की आशंका

अजमेर

बिजयनगर मे रीको इंडस्ट्रीयल एरिया की दो फैक्ट्रियों में भीषण आग लग गई। कॉटन होने के कारण हवा के साथ आग भी लगातार बढ़ती रही। आसपास की फैक्ट्रियों में हड़कंप मच गया। सूचना मिलते ही पुलिस व अग्निशमन वाहन भी मौके पर पहुंचे। दमकल से आग पर काबू पाने का प्रयास किया जा रहा है। आग से करीब एक करोड़ का नुकसान बताया जा रहा है, लेकिन आग लगने के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है।
मौके पर डीएसपी पूनम बरगड़ से मिली जानकारी के मुताबिक बिजयनगर के रीको इंडस्ट्रीयल एरिया के कमल इंडस्ट्री और कमला एग्रो इंडस्ट्री में करीब 2.50 बजे आग लगी। पहले एक ही फैक्ट्री में आग लगी थी। लेकिन हवा के साथ बढ़ती आग ने पास की जिनिंग फैक्ट्री को भी अपनी चपेट में ले लिया। सूचना के बाद मौके पर लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। पुलिस भी मौके पर पहुंची और दमकल को सूचना की गई।
आग बुझाने के लिए बिजयनगर से तीन दमकलें मौके पर बुलाई गई और आग पर काबू पाने का प्रयास किया। लेकिन आग पर अभी तक काबू नहीं पाया जा सका। कॉटन की वजह और तेज हवा के साथ आग तेजी से नहीं बुझ पा रही। वहीं आग से आस पास के फैक्ट्री मालिकों की चिंता भी बढ़ गई। हालांकि तीसरी फैक्ट्री में आग को फैलने से रोक लिया गया है। फिल्हाल एक दमकल ब्यावर से एक्स्ट्रा मंगवाई गई है। वहीं पानी के 7-8 टैंकरों को भी लगाया गया है। आग से करोड़ों के माल का नुकसान होना बताया जा रहा है। वहीं कारणों का फिलहाल खुलासा नहीं हो पाया।