रामपुरा नवोदय विद्यालय के छात्रों ने रचा इतिहास सीबीएसई परीक्षा में 4 विद्यार्थियों ने 100 में से 100 अंक प्राप्त किए

रामपुरा,
नवोदय विद्यालय के छात्र छात्राओं ने केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड सीबीएसई द्वारा आयोजित कक्षा दसवीं और बारहवीं की परीक्षा परिणाम में सौ में सो 100/100 अंक प्राप्त किये हैं।

सीबीएसई द्वारा जारी परीक्षा परिणाम के आधार पर विद्यालय के प्राचार्य श्री राम वि चौरसिया ने बताया कि विद्यालय के चार छात्राओं ने 100/100 सौ में से सौ अंक प्राप्त किये हैं। पढ़ो नवोदय नीमच अभियान के तहत विद्यालय के शैक्षणिक गतिविधियों में गत्यात्मक और गुणात्मक परिवर्तन लाये जाने के लिए सुबह की विषेश कक्षाएँ और शाम में विषय शिक्षकों द्वारा इन्डिविजुवल प्रोवलम सोल्डिंग कार्यक्रम के साथ साथ शैक्षणिक मास ड्रिलिंग, टॉपिक वाईज सायकिल आर्डर प्राक्टिस, डेली कक्षा टेस्ट विकली मॉडल टेस्ट और स्टूडेन्टस टीचर प्रोपर मॉनेटरिंग के साथ साथ विद्यालय के सभी कर्मचारियों का हार्दिक सहयोग से यह परीक्षा परिणाम संभव हो पाये है ।

ग्रामीण और अति पिछड़ा वर्ग क्षेत्र के होनहार और प्रतिभाशाली बच्चों ने नवोदय नीमच को फिर से एक वार देश के उन शिक्षण संस्थाओं के लिस्ट में शामिल कर लिये है जहाँ एक साथ विद्यालय के चार बच्चों के 100 में से 100 अंक मिले है। 96.8% अंक लेकर कु खुशी नागदा कक्षा दसवी में प्रथम स्थान प्राप्त किये है वहीं बारहवीं कक्षा में कु चंचल धाकड़ ने 91.4% अंक लेकर प्रथम स्थान प्राप्त किये है।

प्राचार्य श्री राम चौरसिया ने हमारे संवाददाता को बताया कि दसवीं कक्षा के परीक्षा परिणाम आने के साथ ही ग्यारहवीं कक्षा में प्रवेश की प्रक्रिया शुरू हो गई है। सभी छात्र छात्राएँ विद्यालय अथवा विद्यालय तंत्र में उपलब्ध

ग्यारहवीं कक्षा में प्रवेश स्ट्रीम ऐल्वोकेशन के तहत अपना च्वाईस तत्तकाल प्रेषित करने है। प्रवेश के लिए एडमिशन फार्म निःशुल्क उपलब्ध है। छात्र छात्राएँ को अपने च्वाईश के विषय का आलेखन आवेदन पत्र में करना अनिवार्य है। छात्र छात्राओं को ग्यारहवीं कक्षा में उपलब्ध विषय सांईस विथ मैथ, सांईस विथआऊट मैथ्स, साईस विथ कम्प्यूटर, कॉर्मश विथ मैथ्स, कॉमर्श विथआऊट मैथ्स, कला विथ मैथ्स, हाँटल मैनेजमेन्ट, फाईनान्शियल मैनेजमेन्ट, आफिशियल मैनेजमेन्ट के अलावा अन्य वोकेशनल कोर्स में से किसी एक का चुनाव करना आवश्यक होगा। नामांकन की सारी प्रक्रिया 15 अगस्त के पूर्व सम्पन्न कर ली जायेगी जिससे नियमित कक्षाएँ सुचारू रूप से चालू हो सकेगा।