सिस्टम की उदासीनता के चलते बदहाली पर आंसू बहाने को मजबूर धारडी माखनगंज सड़क मार्ग हालात सड़क में गड्ढे या गड्ढे में सड़क आम जनता को कब मिलेगी राहत

सिस्टम की उदासीनता के चलते बदहाली पर आंसू बहाने को मजबूर धारडी माखनगंज सड़क मार्ग

हालात सड़क में गड्ढे या गड्ढे में सड़क आम जनता को कब मिलेगी राहत

सिंगोली:- नगर को राजस्थान के चित्तौड़ और कोटा से जोड़ने वाले 18 किलोमीटर के धारडी- माखनगंज सड़क मार्ग पिछले लंबे समय से सिस्टम की उदासीनता के चलते अपनी बदहाली पर आंसू बहाने को मजबूर है। उक्त सड़क मार्ग पूरी तरीके से जर्जर हालत में पहुंचकर बड़ी दुर्घटना को आमंत्रण दे रहा है। लेकिन अब तक जिम्मेदारों ने सड़क मार्ग की सुध नहीं ली है जिसकी वजह से पूर्व में भी सड़क मार्ग पर गंभीर दुर्घटनाएं घटित हो चुकी है। और वर्तमान में भी वर्षा ऋतु के चलते सड़क मार्ग में पडे बड़े-बड़े गड्ढों मैं बरसात का पानी भरा होने के कारण आए दिन राहगीर गड्ढों में पढ़कर घायल हो रहे हैं। जर्जर सड़क मार्ग पर आए दिन जाम लगना आम बात हो गई है। लेकिन जिम्मेदारों के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही जबकि उक्त मार्ग पर सैकड़ों की तादाद में दो और चार पहिया वाहन प्रतिदिन निकलते हैं इसी के साथ दुर्घटना में गंभीर घायलों और अन्य बीमारियों में गंभीर मरीजों को भी चित्तौड़ कोटा भीलवाड़ा में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध होने के कारण परिवारजन उन्हें लेकर पहुंचते हैं जिन्हें मरीजों के साथ साथ अपनी भी जान जोखिम में डालकर सफर करना पड़ता है जो चिन्ता का विषय है। चित्तौड़ से कोटा का सफर करने वाले कोटा निवासी एक राहगीर राजेंद्र कुमार ने बताया कि मध्यप्रदेश की सरकार सड़क मार्ग को लेकर विकास का ढिंढोरा पीटती है लेकिन आज सड़क मार्ग पर सफर करने पर पता चला है कि मध्यप्रदेश में किस तरह का विकास हो रहा है जनप्रतिनिधियों द्वारा विकास की बड़ी-बड़ी बातें कर सिर्फ विकास का झूठा ढिंढोरा पीटा जा रहा है मध्य प्रदेश की सीमा से लेकर सिंगोली तक के मार्ग पर सफर करने के दौरान सड़क में गड्ढे हैं या गड्ढे में सड़क घुटनों तक बड़े-बड़े गड्ढे पड़े हैं और उन गड्ढों में बरसात का पानी भरा होने के कारण यह अंदाजा लगाना भी मुश्किल होता है की गड्ढा कितना गहरा है।

*सिंगोली नगर के बीच से गुजर रहे इस मार्ग की तो ओर दयनीय हालत*

जिले का एवं मध्यप्रदेश का अंतिम छोर सिंगोली नगर मध्यप्रदेश और राजस्थान को जोड़ने वाला प्रमुख नगर है यहा से प्रतिदिन सैकड़ो लोग राजस्थान के मध्यप्रदेश मे ओर मध्यप्रदेश के राजस्थान मे जाते आते है परन्तु यहां जो सड़क मार्ग है उसकी इतनी दयनीय हालत है की कुछ कह नही सकते इस मार्ग पर सड़क नाम दिखाई नही देकर सिर्फ ओर सिर्फ गढ्ढे दिखाई देते है जिला प्रशासन और क्षैत्रिय जनप्रतिनिधी का इस मार्ग से आये दिन गुजरना होता है पर आज तक किसी ने इस जर्जर सड़क पर ध्यान नही दिया।

समय रहते बड़े बड़े गढ्ढे नही भरे गये तो हो सकती है बड़ी दुर्घटना

धारड़ी माखनगंज सड़क मार्ग जो 18 किलोमीटर मध्यप्रदेश का टुकड़ा होकर चित्तोडगढ रावतभाटा को जोडने वाला प्रमुख मार्ग है इस पर हजारो वाहन हर रोज निकलते है और सड़क बिल्कुल जर्जर हो चुकी है सड़क पर पडे बड़े बड़े गढ्ढो को समय रहते नही भरा गया तो इन गढ्ढो के कारण कभी भी बडा हादसा या दुर्घटना होना संभव है इसलिए जिला प्रशासन इस विषय पर गंभीर होकर तुरंत सड़क मार्ग ठीक करवाने का काम करे।